Hanuman Chalisa Lyrics In Hindi – श्री हानुमान चालीसा हिंदी में

Hindi Hanuman Chalisa lyrics, lyrics of Hanuman Chalisa, हरिहरन श्री हनुमान चालीसा, Shree Hanuman Chalisa, हनुमान जी चालीसा, Shree Hanuman, Hanuman Chalisa full lyrics, Shree Hanuman Chalisa in Hindi, Hanuman Chalisa pdf, Hanuman Chalisa Hindi lyrics pdf.

हनुमान जी भगवान शंकर का रूद्र अवतार कहा जाता है, ये भगवान शंकर के 11वें रूद्र अवतार माने जाते है, हनुमान चालीसा हनुमान जी की स्तुति के लिए कही जाती है, इसमें हनुमान के जीवन काल , वीरता, साहस, भक्ति, और शक्तियों का वर्णन किया जाता है, हनुमान चालीसा में भी हनुमान जी की शक्तियों का पूर्ण वर्णन नहीं किया जा सकता क्योंकि उनकी शक्ति अपार है जिसका कोई पार नहीं है.

हनुमान चालीसा महाकवि तुलसीदास जी द्वारा रचित एक रचना है इसमें उन्होंने बजरंग हनुमान जी के रूपों एवं शक्तियों का गुणगान किया है इसे हम हनुमान चालीसा कहते है. इसमें दोहा और चौपाइयाँ होती है शुरू में एक दोहा एवं अंत में भी दोहा होता है. इसमें 2 दोहो के आलावा “40 छन्द” होते है, इसे अवधी भाषा शैली में लिखा गया है?

मंगलवार और शनिवार के दिन हनुमान चालीसा को पढ़ना अत्यंत शुभकारी एवं फलदायक माना गया है कहा जाता है की इसका पाठ करने से शनिदेव की वक्रदृष्टि से बच जाते है और शनि की साढ़ेसाती भी नहीं लगती।

हनुमान चालीसा को पढने और सुनने से जीवन में बुराइयों का नाश होता है, इससे पढने वाला व्यक्ति शत्रुओं पर विजय प्राप्त करता है, हनुमान जी की चालीसा को रोजाना पढने से मन, क्रम, वचन सब शुद्ध हो जाते है, मनुष्य अपने आप पर संयम पा सकता है, आप भी Hanuman Chalisa Lyrics in Hindi के माध्यम से इसे सिख सकते है. यहाँ से आप Hanuman Chalisa pdf download कर सकते है.

Shree HanumaHanuman Chalisa Lyrics In Hindi

|| दोहा ||

श्रीगुरु चरन सरोज रज निज मनु मुकुरु सुधारि ।

बरनउँ रघुबर बिमल जसु जो दायकु फल चारि ॥

बुद्धिहीन तनु जानिके सुमिरौं पवन-कुमार ।

बल बुधि बिद्या देहु मोहिं हरहु कलेस बिकार ॥

|| चौपाई||

जय हनुमान ज्ञान गुन सागर ।

जय कपीस तिहुँ लोक उजागर ॥

राम दूत अतुलित बल धामा ।

अंजनि पुत्र पवनसुत नामा ॥

महाबीर बिक्रम बजरंगी ।

कुमति निवार सुमति के संगी ॥

कंचन बरन बिराज सुबेसा ।

कानन कुण्डल कुँचित केसा ॥4॥

हाथ बज्र अरु ध्वजा बिराजै ।

काँधे मूँज जनेउ साजै ॥

शंकर सुवन केसरी नंदन ।

तेज प्रताप महा जगवंदन ॥

बिद्यावान गुनी अति चातुर ।

राम काज करिबे को आतुर ॥

प्रभु चरित्र सुनिबे को रसिया ।

राम लखन सीता मन बसिया ॥8॥

सूक्ष्म रूप धरि सियहिं दिखावा ।

बिकट रूप धरि लंक जरावा ॥

भीम रूप धरि असुर सँहारे ।

रामचन्द्र के काज सँवारे ॥

लाय सजीवन लखन जियाए ।

श्री रघुबीर हरषि उर लाये ॥

रघुपति कीन्ही बहुत बड़ाई ।

तुम मम प्रिय भरतहि सम भाई ॥12॥

सहस बदन तुम्हरो जस गावैं ।

अस कहि श्रीपति कण्ठ लगावैं ॥

सनकादिक ब्रह्मादि मुनीसा ।

नारद सारद सहित अहीसा ॥

जम कुबेर दिगपाल जहाँ ते ।

कबि कोबिद कहि सके कहाँ ते ॥

तुम उपकार सुग्रीवहिं कीह्ना ।

राम मिलाय राज पद दीह्ना ॥16॥

तुम्हरो मंत्र बिभीषण माना ।

लंकेश्वर भए सब जग जाना ॥

जुग सहस्त्र जोजन पर भानु ।

लील्यो ताहि मधुर फल जानू ॥

प्रभु मुद्रिका मेलि मुख माहीं ।

जलधि लाँघि गये अचरज नाहीं ॥

दुर्गम काज जगत के जेते ।

सुगम अनुग्रह तुम्हरे तेते ॥20॥

राम दुआरे तुम रखवारे ।

होत न आज्ञा बिनु पैसारे ॥

सब सुख लहै तुम्हारी सरना ।

तुम रक्षक काहू को डरना ॥

आपन तेज सम्हारो आपै ।

तीनों लोक हाँक तै काँपै ॥

भूत पिशाच निकट नहिं आवै ।

महावीर जब नाम सुनावै ॥24॥

नासै रोग हरै सब पीरा ।

जपत निरंतर हनुमत बीरा ॥

संकट तै हनुमान छुडावै ।

मन क्रम बचन ध्यान जो लावै ॥

सब पर राम तपस्वी राजा ।

तिनके काज सकल तुम साजा ॥

और मनोरथ जो कोई लावै ।

सोई अमित जीवन फल पावै ॥28॥

चारों जुग परताप तुम्हारा ।

है परसिद्ध जगत उजियारा ॥

साधु सन्त के तुम रखवारे ।

असुर निकंदन राम दुलारे ॥

अष्ट सिद्धि नौ निधि के दाता ।

अस बर दीन जानकी माता ॥

राम रसायन तुम्हरे पासा ।

सदा रहो रघुपति के दासा ॥32॥

तुम्हरे भजन राम को पावै ।

जनम जनम के दुख बिसरावै ॥

अंतकाल रघुवरपुर जाई ।

जहाँ जन्म हरिभक्त कहाई ॥

और देवता चित्त ना धरई ।

हनुमत सेइ सर्ब सुख करई ॥

संकट कटै मिटै सब पीरा ।

जो सुमिरै हनुमत बलबीरा ॥36॥

जै जै जै हनुमान गोसाईं ।

कृपा करहु गुरुदेव की नाईं ॥

जो सत बार पाठ कर कोई ।

छूटहि बंदि महा सुख होई ॥

जो यह पढ़ै हनुमान चालीसा ।

होय सिद्धि साखी गौरीसा ॥

तुलसीदास सदा हरि चेरा ।

कीजै नाथ हृदय मह डेरा ॥40॥

|| दोहा ||

पवन तनय संकट हरन,

मंगल मूरति रूप ।

राम लखन सीता सहित,

हृदय बसहु सुर भूप ॥

आशा करते है की इन लिरिक्स को पढने के बाद आपको हनुमान चालीसा आ चुकी होगी यदि आपको अभी Hanuman Chalisa Lyrics पढने में या इसका अर्थ समझने में कोई समस्या हो तो कमेंट जरुर करे?

हनुमान चालीसा का जाप हर किसी को करना चाहिए इसका जाप करने से बुरी शक्तियों से पीछा छूट जाता है इसके जाप से बुरी शक्तियाँ पास नहीं आती है एवं संकट और भय व्यक्ति से हमेशा दूर ही रहते है. दिन में कम से कम एक बार Hanuman Chalisa का जाप अवश्य करना चाहिये।

Hanuman Chalisa Hindi lyrics pdf

अगर आप हनुमान चालीसा को ऑफलाइन अपने मोबाइल में डाउनलोड करके पढ़ना चाहते हो तो इसके लिए हम आपको Hanuman Chalisa pdf का लिंक दे रहे है जहाँ से आप इसको पीडीऍफ़ फाइल में डाउनलोड कर सकते हो इसके बाद जब आप का मन चाहे तब इसे पढ़ सकते हो।

Hanuman Chalisa Lyrics Pdf Download करने के डाउनलोड के बटन पर क्लिक करें।

Shri Hanuman Chalisa Lyrics In English

If you want to learn Shri Hanuman Chalisa So Follow this line and read it consciously so that you will understand the meaning of Hanuman Chalisa. There Are 2 Dohas in Hanuman Chalisa one of them use in 1st, and 2nd is last.

Shri Hanuman Chalisa Lyrics In English

There are “40” Chaupayi” apart from these 2 Dohas in Hanuman Chalisa. It is Written By Mahakavi (Writer) Tulsidas Ji who also wrote “Ram Charit Manasseh.” Which is based on the life of “Lord Rama”

So let’s Strat The Hanuman chalisa in English.

|| Doha ||

shriguru charan saroj raj, nij manu mukuru sudhaaree

baranun raghubar bimal jasoo, jo dayaku phalu chari.

buddhihin tanu jaanike, sumiron pavan-kumar,

bal buddhi Vidya dehu mohi, harahu kalesu vikaar.

|| Chaupayi / Chalisa ||

jay hanuman gyaan gun saagar,

jay kapis tihu lok ujagar.

ram doot atuleet bal dhama,

anjani-putra pavanasut nama.

mahaavir bikram bajarangi,

kumati nivar sumati ke sangi.

kanchan baran biraj subesa,

kaanan kundal kunchit kaisa. (4)

hath bajra aur dhvaja biraje,

kaandhe moonja janeoo saaje.

shankar suvan kesarinandan,

tej pratap maha jag bandan.

bidyaavaan guni ati chaatur,

ram kaaj karibe ko aatur.

prabhu charitra sunibe ko rasiya,

ram lakhan sita man basiya. (8)

sukshma rup dhari siyhin dikhava,

bikat rup dhari lank jaraava.

bheem rup dhari asur sanhaare,

ramachandra ke kaaj sanvaare.

laye sanjivani lakhan jiyaye,

shriraghubir harashi ur laye.

raghupati kihnee bahut badayi,

tum mam priyahi bharatahi sam bhai. (12)

sahas badan tumharo jas gaave,

as kahi shrupati kanth lagaavain.

sanakaadik brahmaadi munisa,

naarad saarad sahit ahisa.

yam kuber digpaal jahan te,

kabhi kobind kahin sake kahan te.

tum upakar sugrivahin keehna,

ram milay raj pad dihna. (16)

tuhmaro mantra vibhishana mana,

lankeshvar bhaye sab jag jaana.

jug sahastra yojan par bhanoo,

lilyo taahi madhur phal janoo.

prabhu mudrika maili mukh maahin,

jaladhi langhi gaye acharaj naahin.

durgam kaj jagat ke jete,

sugam anugraha tuhmare tete. ||20||

raam duare tum rakhavare,

hot na aagya binu pesaare.

sab sukh lahai tuhmari sarana,

tum rakshak kaahu ko dar na.

aapan tej samharo aapai,

tenon lok hank ten kaanpai.

bhoot pisach nikat nahin aavai,

mahaaveer jab naam sunavai. ||24||

nase rog hare sab peera,

japat nirantara hanumat bira.

sankat te hanuman chhudaave,

man kram vachan dhyan jo laave.

sab par Ram tapasvi raja,

tin ke kaj sakal tum saja.

aur manorath jo koi laave,

soi amit jivan phal paave. ||28||

charon jug paratap tumhara,

hai parasiddha jagat ujiyara.

sadhu sant ke tum rakhavare,

asur nikandan Ram dulare.

ashtasiddhi Nav nidhi ke data,

as bar din jaanaki mata.

ram rasayan tuhmare pasa,

sada raho raghupati ke dasa. ||32||

tuhmare bhajan raam ko pavai,

janam-janam ke dukh bisarave.

ant kal raghuvar pur jaai,

jahan janma haribhakta kahaai.

aur devata chitta na dharahi,

hanumat sei sarva sukh karahi.

sankat katai mitai sab pira,

jo sumire hanumat balbira.||36||

jay jay jay hanuman gosaain,

kripa karahun gurudev ki naain.

jo sat bar path kar koi,

chhutahi bandi maha sukh hoi.

jo yah padhai hanuman chalisa,

hoi siddhi sakhi gaurisa.

tulasidas sada hari chaira,

keejai naath hrday mahan dera. ||40||

|| Doha ||

pavanatanaya sankat haran, mangal moorati rup.

Ram, Lakhan, Sita sahit, hriday basahu sur bhup

Eeti Shri Hanuman Chalisa Completed!

We hope you understood the lyrics of Hanuman Chalisa. We have given our best to write the lyrics of Hanuman Chalisa if you will find any mistake in this please comment us we will rewrite the line of mistakes Ok.

Hanuman Chalisa Video With Lyrics.

To read more lyrics of trending music come to our website thehindikahaniya.com

Leave a Comment